Monday, 8 September 2014

HINDI STATUS 1-5

1>>>>    सोचता हूँ इस दिल में एक कब्रिस्तान बना लूँ,,,मर रहे हैं सारे ख्वाब एक-एक कर के




2>>>>    "इतनी तो तेरी सूरत भी नहीं देखी...जितना तेरे
इंतज़ार में घड़ी देखी है"



3>>>>     मेरे मरने पर किसी को ज्यादा फर्क नहीं होगा,
बस तन्हाई रोएगी कि मेरा हमसफ़र चला गया



4>>>>    कोई मुझ से पूछ बैठा 'बदलना' किस को कहते हैं?
सोच में पड़ गया हूँ मिसाल किस की दूँ ?
मौसम की या तेरी ?.




5>>>>>    तूने कह तो दिया भूल जाओ मुझे .....
तुझे भूल जाऊँ ये कैंसे मुमकिन है भला...
दरियाओं को भी तुमने कभी उल्टे बहते देखा है